Uttra news
Uttarakhand- भूस्खलन से पिथौरागढ़ में दो दर्जन सड़कें बंद
 
पिथौरागढ़ सहयोगी, 22 जुलाई 2021

जिले में मौसम का मिजाज गुरुवार को भी बिगड़ा रहा। खासकर तड़के करीब 4 बजे से दोपहर तक लगातार बारिश होती रही और कोहरा छाया रहा। दोपहर बाद बारिश थमी और मौसम कुछ खुला। 


हालांकि उसके बाद भी बादल आसमान में डेरा जमाये रहे। वहीं, बारिश के बीच मलबा आने से एक नेशनल हाईवे और छह बार्डर सहित करीब दो दर्जन सड़क मार्ग बंद हो गए, जिससे यात्रियों और आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। 


तड़के करीब साढ़े पांच बजे पिथौरागढ़-टनकपुर नेशनल हाईवे घाट से पहले चुपकोट बैंड और गुरना में मलबा आने से बंद हो गया। जो दोपहर 12 बजे बाद सुचारू हो पाया। हालांकि मैदानी क्षेत्रों को जाने वाले अधिकतर वाहन वाया अल्मोड़ा होकर निकले, क्योंकि टनकपुर मार्ग चंपावत से आगे जगह जगह बाधित रहा। थल-मुनस्यारी राज्य राजमार्ग पर भी सुबह हरड़िया नाले पर मलबा आ गया, जिसे कुछ देर बाद खोल दिया गया।


इधर अपराह्न लगभग एक बजे जिला मुख्यालय के समीप आईटीबीपी गेट के पास भारी मात्रा में भूस्खलन हुआ, जिसमें एक जीप दब गई। जीप सवार सभी लोग बाल-बाल बच गए, लेकिन थल-मुनस्यारी मार्ग को भी जोड़ने इस पिथौरागढ़-धारचूला राष्ट्रीय राजमार्ग के दोनों ओर वाहनों की कतार लग गई। अपराह्न साढ़े तीन बजे तक मलबा हटाकर यातायात सुचारू करने की कवायद जारी थी।


इसके अलावा भूस्खलन से घट्टा बगड़-लिपुलेख, गुंजी-कुटी-ज्योलिंगकांग, पिथौरागढ़-तवाघाट, तवाघाट-सोबला तथा सोबला-दर-तिदांग-ढाकर और पंपई -उर्थिंग बार्डर रोड विभिन्न जगहों पर भूस्खलन से अभी बंद हैं। करीब डेढ़ दर्जन से अधिक ग्रामीण मार्ग भी बंद चल रहे हैं।

सोशल मीडिया में आप हमसे फेसबुकटविटर के माध्यम से भी हमसे जुड़ सकते है। इसके साथ ही आप हमें  गूगल न्यूज पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है। हमारे वाटसप ग्रुप में जुड़ने के लिये कृपया इस लिंक को क्लिक करें

खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now