Uttra news
बच्चों की आन लाइन शिक्षा में मदद को अल्मोड़ा के इस शिक्षक ने बनाया एन्ड्रॉइड एप्प, आप भी कर सकते हैं इस्तेमाल
 आॅन लाइन शिक्षा एक विकल्प बनकर तो उभरी पर भौगौलिक स्थिति सीमित संशाधन और लोगों की सीमित क्षमता आॅन लाइन पढ़ाई में कहीं कहीं बच्चों के बीच एक बाधा डालने का कार्य कर रही है।
 
 ल्मोड़ा जिले के धौलादेवी ब्लॉक के सुदूर गांव बजेला के प्राथमिक अध्यापक भास्कर जोशी ने डिजिटल इंडिया इनीशिएटिव और ICT इनफॉरमेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी) को  कोरोनाकाल से लड़ने के लिए सशक्त हथियार के रूप में प्रयोग किया है। उन्होंने बजेला आॅन लाइन नाम से एक एंड्रायट एप बनाया है। इस एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोट किया जा सकता है। 
 

अल्मोड़ा, 10 जुलाई 2021— विश्व व्यापरी कोविड संक्रमण का असर यूं तो समाज के हर वर्ग और आम जनजीवन पर पड़ा हैं लेकिन ​औपचारिक शिक्षा इस संक्रमण के बाद से पूरी तरह बाधित हुई है। पिछले 15 माह से विद्यालय बंद है और बच्चे विभिन्न माध्यमों से शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।
ऐसे में आॅन लाइन शिक्षा एक विकल्प बनकर तो उभरी पर भौगौलिक स्थिति सीमित संशाधन और लोगों की सीमित क्षमता आॅन लाइन पढ़ाई में कहीं कहीं बच्चों के बीच एक बाधा डालने का कार्य कर रही है। मोबाईल नेटवर्क जैसी कई अन्य समस्याओं का अभिभावकों को सामना करना पड़ा कही नेटवर्क की समस्या तो कहीं बच्चो के पास फ़ोन नही और कहीं विद्यालय और अभिभावकों के मध्य शुल्क को लेकर विभिन्न समस्याएं उत्पन्न होती रही।

इसी बीच अल्मोड़ा जिले के धौलादेवी ब्लॉक के सुदूर गांव बजेला के प्राथमिक अध्यापक भास्कर जोशी ने डिजिटल इंडिया इनीशिएटिव और ICT इनफॉरमेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी) को  कोरोनाकाल से लड़ने के लिए सशक्त हथियार के रूप में प्रयोग किया है। उन्होंने बजेला आॅन लाइन नाम से एक एंड्रायट एप बनाया है। इस एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोट किया जा सकता है। 
भास्कर जोशी बताते हैं कि आईसीटी ICT का मतलब(information and communication Technolgy ) सूचना और संचार प्रौद्योगिकी से है आईसीटी तकनीकी माध्यम की सहायता से सूचनाओं को संग्रहित ,संसाधित ,प्रसारित ,  पुनर्णाप्त और संचारित करने में मदद करता है। शैक्षिक प्रक्रिया में आईसीटी मुख्य रूप से चार तरीकों से नियोजित होता है।

आन लाइन शिक्षा
 शिक्षण अधिगम, मूल्यांकन, प्रशासन और व्यावसायिक विकास। इसी आधार पर कोरोनाकाल की शुरुवात से ही बच्चो को ICT के माध्यम से शिक्षा से जोड़ा गया सबसे पहले व्हाट्सएप क्लासेज , फिर एनिमेटेड वीडियो , वेबसाइट  द्वारा और अब एंड्राइड ऐप से जोड़ा गया है । उन्होंने बताया कि यह एप्प बहुत खास है , इस ऐप के माध्यम से बच्चों को दैनिक कार्य, साप्ताहिक वर्कशीट ,मिशन कोशिश की कार्यपुस्तिका , विद्यालय की मैगजीन, संदर्भ ग्रंथ ,आनंदम गतिविधि, ऑनलाइन लाइब्रेरी ,प्रश्नोत्तरी, समर कैंप की गतिविधि, स्वयं portal से अध्यन, Ncert की किताबें, नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी , दीक्षा पोर्टल से अध्यन , स्वयंप्रभा की सूचना , कुमाऊनी और गढ़वाली बाल साहित्य , एक भारत श्रेष्ठ भारत , राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय समाचार इत्यादि अंगूठे के एक क्लिक पर ही प्राप्त हो रही है। बजेला ऑनलाइन ऐप के माध्यम से बच्चे NCERT के ई पाठशाला के कंटेंट को अपने फोन में देख और पढ़ सकते हैं साथ ही CIET ( सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन टेक्नोलॉजी) की ऑडियो बुक से भी अपना अधिगम कर सकते है । इसमें पॉस्को का बटन भी दिया गया है कोई भी बच्चा असुरक्षित महसूस करने पर एक बटन दबाने पर चाइल्ड हेल्पलाइन से संपर्क कर सकता है ।
app का लाइब्रेरी सेक्शन-चलता चल बढ़ता चल बच्चों द्वारा बहुत पसंद किया जा रहा है ,भास्कर बताते है कि इसमें उन्होंने 100 से अधिक कॉमिक और बाल साहित्य अपलोड किया है
 भास्कर जोशी बताते हैं कि वह रोज सुबह इस ऐप को अपडेट करते हैं ताकि बच्चों को नवीनतम ज्ञान प्राप्त हो सके। बच्चे इस ऐप को पाकर बहुत खुश हैं वही अभिभावक भी इस एप्प को पाकर अपने को गर्वान्वित महसूस कर रहे है । उन्होंने यह भी बताया कि इस ऐप को बनाने में डीएम अल्मोड़ा नितिन भदोरिया,जिला शिक्षा अधिकारी एच.बी चंद्र व खंड शिक्षा अधिकारी  चंदन​ सिंह  ने विशेष मार्गदर्शन किया

App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध है और निम्न लिंक से डाउनलोड किया जा सकता है । 
https://play.google.com/store/apps/details?id=com.wBAJELAONLINE_13959923

सोशल मीडिया में आप हमसे फेसबुकटविटर के माध्यम से भी हमसे जुड़ सकते है। इसके साथ ही आप हमें  गूगल न्यूज पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है। हमारे वाटसप ग्रुप में जुड़ने के लिये कृपया इस लिंक को क्लिक करें

खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now