Uttra news
पहाड़ी गीतों में अल्मोड़ा के हिरदा की आवाज खू भा रही है लोगों को
 

 अल्मोड़ा: 15 जुलाई 2021- पहाड़ी गानों की भीड़ बाजार में चंद गीत ही सुनने और समझने के होते हैं। अल्मोड़ा निवासी हीरा सिंह धर्मसक्तू इसी प्रयास में सफल हुए हैं।
उनके द्वारा गाए जाने वाले पहाड़ी गानों को पहाड़ी गीत प्रेमी खास पसंद कर रहे हैं। मूल रूप से मुनस्यारी निवासी हीरा सिहं धर्मसक्तू हिरदा स्व0 शेर सिंह के पुत्र हैं। उनक शीक्षा बचपन से ही अल्मोड़ा में हुई।  


संगीत की रूचि रखने वाले 53 वर्षीय हिरदा वर्तमान में गोविंद बल्लभ पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण संस्थान में कार्यालय अधीक्षक पद पर कार्यरत हैं। लोअर माल रोड निवासी हिरदा बीते कई सालों से गीत लिखने और बाद्य यंत्रों को बजाने का शौक रखते हैं। अब तक वे चर्चित एक दर्जन से अधिक गीत लिख चुके हैं। लेखन के साथ अपनी आवाज के लिए वे अधिक प्रसिद्ध हुए हैं। मुनस्यारी क्षेत्र की अपनी विशेष बोल भाषा और शैली के बाद भी खसपर्जिया कुमाऊॅनी का गायन उनकी विशेषता है। बीते दिनों उनके द्वारा नंदा स्टूडियो हल्द्वानी में अपना पहला गाना मेरी सुवा रिकार्ड किया गया।


यू ट्यूब में यह गीत खास पसंद किया जा रहा है। नंद किशोर पाण्डे द्वारा इस गीत को संगीत दिया गया । पहाड़ी परिवेश में फिल्मांकित किया गया यह वीडियो पहाड़ी स्पंदन को छूने में सफल हुआ है। पहाड़ में पलायन, पहाड़ में जीवन की कठिनाईयों और उसके बीच पहाड़ के प्रति प्रेम और सहकार को समेटने का इसमें प्रयास किया गया है। वे अपने गीतों में पहाड़ में रहकर संघर्ष करने का संदेश दे रहे हैं। उनका कहना है कि नई पीढ़ी के सामने शास्त्रीय ढंग से संगीत प्रस्तुत करना संभव नहीं है। फिर भी हमें अपने लोकसंस्कृति की मौलिकता को बचाने का प्रयास जारी रखना होगा। आने वाले समय में वे अपने गीतों से पहाड़ में नए पर्यटन स्थलों, प्रसिद्ध बाजारों और धार्मिक स्थलों को उकेरने का प्रयास करेंगे। जौहार महोत्सव सहित अनेक सांस्कृतिक आयोजनों में भी वे अपने गीतों से ख्याति बंटोर चुकेे हैं। संस्थान से जु़ड़े अनेक गीत प्रेमियों  और उनके परिचितों ने उनके इस प्रयास के लिए शुभकामनाऐ दी है। हिरदा को पहाड़ की संस्कृति से गहरा लगावा है। उनका संदेश है कि हमें अपनी संस्कृति पर गर्व होना चाहिए। अपनी बोली भाषा और रहन सहन को प्रोत्साहित करना चाहिए।

सोशल मीडिया में आप हमसे फेसबुकटविटर के माध्यम से भी हमसे जुड़ सकते है। इसके साथ ही आप हमें  गूगल न्यूज पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है। हमारे वाटसप ग्रुप में जुड़ने के लिये कृपया इस लिंक को क्लिक करें

खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now