Movie prime
बागेश्वर में दूरस्थ मतदान केन्द्रों की 43 पार्टिया हुई रवाना, वोरबलड़ा बूथ सड़क सबसे अधिक 15 किमी दूरी पर
बागेश्वर सहयोगी। लोक सभा के मतदान के लिए बागेष्वर की विधानसभा क्षेत्र कपकोट की दूरस्थ क्षेत्र की 43 पोलिंग पार्टियों को राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय बागेष्वर से हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। सड़क से अधिक दूरी वाले बूथों जिसमें रा0प्र0मा0वि0वोरबलड़ा 15 किमी, पंचायतघर कुंवारी 12किमी, रा0प्रा0वि0खाती 06 किमी, रा0प्रा0वि0 खलपट्टा 06 किमी, रा0उ0मा0वि0खलझूनी 06किमी, रा0प्रा0वि0लाहुर 06
 
बागेश्वर में दूरस्थ मतदान केन्द्रों की 43 पार्टिया हुई रवाना, वोरबलड़ा बूथ सड़क  सबसे अधिक 15 किमी दूरी पर

बागेश्वर सहयोगी। लोक सभा के मतदान के लिए बागेष्वर की विधानसभा क्षेत्र कपकोट की दूरस्थ क्षेत्र की 43 पोलिंग पार्टियों को राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय बागेष्वर से हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। सड़क से अधिक दूरी वाले बूथों जिसमें रा0प्र0मा0वि0वोरबलड़ा 15 किमी, पंचायतघर कुंवारी 12किमी, रा0प्रा0वि0खाती 06 किमी, रा0प्रा0वि0 खलपट्टा 06 किमी, रा0उ0मा0वि0खलझूनी 06किमी, रा0प्रा0वि0लाहुर 06 किमी, रा0प्रा0वि0सुलमती 06 किमी, रा0उ0प्रा0वि0तोली 05किमी, रा0प्रा0वि0षोभाकुण्ड 05किमी, रा0प्रा0वि0बीथीपन्याती 05 किमी, रा0प्रा0वि0 भैस्यूड़ी 05किमी, रा0प्रा0वि0चन्तोला 05किमी, ठांगा 05 किमी, रा0इ0का0भेंटाकरड़िया 05 किमी आदि को मंगलवार को रवाना किया गया।
इस अवसर पर जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी रंजना राजगुरू ने निर्वाचन में तैनात किये गये पीठासीन अधिकारी एवं मतदान अधिकारियों को निर्देषित दिये है कि उन्हें जो जिम्मेदारी सौंपी गयी है वह अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन निश्ठा एवं ईमानदारी पूर्वक करे। तथा मतदान प्रक्रिया को सफलतापूर्वक सम्पादित करने के लिए स्वस्थ एवं प्रसन्न मन से निर्वाचन कार्य को संपादित करें। उन्होंने कहा कि किसी को घबराने की आवष्यकता नहीं है सभी कार्मिक धैर्य के साथ अपना दायित्वों का निर्वहन करें। उन्होंने कहा कि इस बार निर्वाचन में वीवीपैट मषीन का भी प्रयोग किया जा रहा है जो बहुत ही संवेदनषील है इसके साथ माॅकपोल से पहले किसी प्रकार की कोई छेड़छाड न की जाय और इसे सीधे सूर्य के प्रकाष में भी न रखा जाय। उन्होंने कहा इन मषीनों की सुरक्षा का दायित्व सभी पोलिंग पार्टियों का है। इसलिए ईवीएम, वीवीपैट मषीनों को किसी भी दषा में लावारिस न छोड़ा जाय और न ही किसी नीजी भवन में न रखा जाय। चूॅकि इन मषीनों की निर्वाचन आयोग द्वारा लगातार ट्रैकिंग की जा रही है इसलिए इसमें कोई भी लापरवाही न बरती जाय। ऐसे पाये जाने पर संबंधित के विरूद्ध कठोर से कठोर कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। उन्होंने पीठासीन अधिकारियों को निर्देष दिये है कि निर्वाचन हेतु जो ईवीएम मषीन उपलब्ध करायी गयी है उन्हीं के माध्यम से माॅकपोल से लेकर निर्वाचन की प्रक्रिया संपादित की जानी है। रिजर्व में उपलब्ध करायी गयी मषीने जिसमें रिजर्व अंकित किया गया है उसे तभी मतदान हेतु उपयोग में लाई जाय यदि मतदान हेतु ईवीएम मषीन खराब हो। उन्होंने यह भी निर्देष दिये है कि कोई भी पीठासीन अधिकारी अपने मोबाइल की जीपीएस लोकेषन को आॅफ नहीं करंेगे। साथ ही निर्वाचन प्रक्रिया षुरू करने एवं समाप्ति तक सभी पीठासीन अधिकारी को 15 एसएमएस करने है इसके लिए सभी अधिकारी अपने मोबाईल फोन को रिचार्ज एवं बैटरी भी चार्ज करना सुनिष्चित कर लें। उन्होंने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों से अपेक्षा की है कि सभी कार्मिक अपने ईडीसी फार्म अवष्य प्राप्त कर लें ताकि निर्वाचन में लगे सभी कार्मिक अपने मताधिकार का प्रयोग कर सके। उन्होंने सभी कार्मिकों को यह भी निर्देष दिये है कि सभी पोलिंग पार्टियाॅ अपने मतदान केन्द्र पर ही रहेंगी। कोई भी कर्मचारी किसी भी व्यक्ति का आतिथ्य सत्कार स्वीकार न करें चूकि सभी कार्मिकों के लिए भोजन की व्यवस्था मतदान केन्द्र में ही की गयी है। उन्होंने रवाना होने वाली पार्टियों को निर्देषित करते हुए कहा कि सभी कार्मिक मैडिकल किट में दिये जा रहे आॅक्सीजन सिलेण्डर को प्रयोग करने की विधि को भलि भाॅति समझ लें ताकि आवष्यकता पड़ने पर तत्काल रूप से इसका प्रयोग किया जा सके। जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी कार्मिकों को अपनी षुभकामनाऐं देते हुए निश्पक्ष एवं षान्तिपूर्ण एवं स्वास्थ मन से निर्वाचन संपादित करने की अपेक्षा की है।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक लोकेष्वर सिंह ने सुरक्षा में लगे सभी सुरक्षा कार्मिकों को निर्देषित करते हुए कहा कि सभी सुरक्षा कर्मी अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन निश्ठा से करें तथा सभी सुरक्षा कर्मी पोलिंग पार्टी के साथ रहे तथा ईवीएम मषीन एवं वीवीपैट मषीन एवं पोलिंग पार्टियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी सभी सुरक्षा कर्मियों की है। उन्होंने कहा कि सभी सुरक्षा कर्मी अपने सैक्टर पुलिस अधिकारी का नंबर अवष्य लें। उन्होंने यह भी निर्देष दिये है कि सभी सुरक्षा कर्मी मतदान केन्द्र में रहेंगे। तथा निश्पक्ष एवं षान्तिपूर्ण चुनाव कराना सभी सुरक्षा कर्मियों की नैतिक जिम्मेदारी है।
इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी/अपर जिलाधिकारी राहुल कुमार गोयल, सीओ महेष जोषी, सहायक रिटर्निग आफिसर/उप जिलाधिकारी कपकोट प्रमोद कुमार, काण्डा योगेन्द्र सिंह, नोडल अधिकारी कार्मिक के.एन.तिवारी, नोडल अधिकारी लेखन षिल्पी पन्त, समन्वयक प्रषिक्षक डाॅ0 उदय षंकर, नोडल अधिकारी मीडिया अरूण कुमार वर्मा, नोडल अधिकारी यातायात कृश्ण चन्द्र पलडिया, नोडल अधिकारी जीपीएस निखिल षर्मा सहित संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now