Uttra news
Almora- विवेकानन्द संस्थान ने मनाया 98 वां स्थापना दिवस
 
अल्मोड़ा, 5 जुलाई 2021

बीते रविवार को भाकृअनुप-विवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान का 98 वाँ स्थापना दिवस संस्थान के अल्मोड़ा (Almora) एवं हवालबाग प्रक्षेत्रा स्थित सभागार तथा संस्थान के कृषि विज्ञान केन्द्रों (काफलीगैर, बागेश्वर एवं चिन्यालीसौण, उत्तरकाशी) में कोविड- 19 के दिशा-निर्देशों के अन्तर्गत सामाजिक दूरी बनाते हुए डिजिटल प्लेटफार्म पर धूम-धाम से मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ कुंदन हाउस स्थित पूजागृह में पूजा अर्चना से हुआ। 


कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. त्रिलोचन महापात्रा, सचिव, कृषि अनुसंधान एवं शिक्षा विभाग, भारत सरकार तथा महानिदेशक, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली रहे। उन्होंने  विडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से संस्थान के वैज्ञानिकों एवं कर्मचारियों को स्थापना दिवस की बधाई दी तथा संस्थान द्वारा पर्वतीय कृषि के क्षेत्रा में उत्कृष्ट योगदान हेतु सराहना व्यक्त किया। 


इस अवसर पर उन्होंने प्रथम पदम भूषण प्रो. बोशी सेन स्मारक व्याख्यान दिया। उन्होंने प्रो. बोशी सेन के योगदान पर बल देते हुये संस्थान की स्थापना कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की और पूर्व निदेशकों के योगदान को सराहा। 


उन्होंने भाकृअनुप तथा अन्य संस्थानों के साथ मिलकर कृषि की नयी चुनौतियों का समाधान करने की आवश्यकता पर बल दिया। उपभोक्ता वरीयता के महत्व पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने पोषण संबंधी शोध एवं विष्व स्तर पर उन्हें बढ़ावा देने हेतु उत्पाद ब्राडिंग की सलाह दी।

Uttarakhand Breaking- बैंक में करनी थी ज्वाइनिंग लेकिन उससे पहले आई मौत, सड़क हादसे में जीजा-साले ने गंवाई जान


संस्थान के निदेशक डॉ. लक्ष्मी कान्त ने संस्थान के संस्थापक प्रो. बोशी सेन को नमन करते हुए मुख्य अतिथि सहित सभी गणमान्य अतिथियों का स्वागत किया तथा विगत वर्ष में संस्थान द्वारा प्राप्त की गयी। 


उन्होंने बताया कि विगत वर्ष के दौरान विभिन्न फसलों की 10 किस्में अधिसूचित, 02 किस्में विमोचित तथा 5 किस्मों की पहचान की गयी। उन्होंने लहसुन के कंदों का रोपण सामग्री के रूप में तथा मक्का में त्वरित प्रजनन हेतु डबल हैप्लोइडी के उपयोग को महत्वपूर्ण बताया। 


उनके द्वारा देश के 24 राज्यों ने किस्मों का प्रसार तथा 16 राज्यों में संस्थान द्वारा विकसित मशीनों को पहुंचाने का भी जिक्र किया गया। डॉ. कांत ने अपने भाषण में कहा कि संस्थान की विभिन्न प्रसार सेवायें जैसे कृषक हेल्पलाइन, कृषि समृद्धि कार्यक्रम, एसएमएस सेवा, व्हाट्सएम, एम-किसान सेवा आदि भी कृषकों तक पहुंचने में कारगर सिद्ध हो रही हैं। उन्होंने संस्थान द्वारा चलायी जा रही विभिनन परियोजनाओं जैसे एससीएसपी, एनईएच एवं टीएसपी के माध्यम से कृषकों के लाभान्वित होने की जानकारी भी दी। 

Bageshwar Corona Update- 1 नया संक्रमित व 1 डिस्चार्ज


संस्थान के पूर्व निदेशक  डॉ. जे. पी टण्डन, डॉ. एच. एस. गुप्ता, डॉ. जे. सी. भट्ट, डॉ. ए. के. श्रीवास्तव, डॉ. अरूणव पट्टनायक एवं डॉ. आर सी श्रीवास्तव आदि डिजिटल माध्यम से सम्मिलित हुए तथा उन्होंने संस्थान के वैज्ञानिकों एवं कर्मचारियों को उनकी उपलब्धियों के लिए बधाई दी। रामकृष्ण कुटीर, अल्मोड़ा के अध्यक्ष स्वामी ध्रुवेशानन्द ने स्वामी विवेकानन्द की वन्दना करते हुए वैज्ञानिक कृषि को आगे बढ़ाने पर जोर दिया। 


संस्थान में कार्यरत सहायक मुख्य तकनीकी अधिकारी संजय कुमार, वरिष्ठ तकनीकी अधिकारी  दयाशंकर, तकनीकी अधिकारी रेनू सनवाल, सहायक तकनीकी अधिकारी, मनोज भट्ट, व्यैक्तिक सहायक, चारू चन्द्र जोशी, वरिष्ठ तकनीशियन मनोज भट्ट, अपर श्रेणी लिपिक अभिवनव सिंह एवं तकनीशियन हरीश पाण्डे को उनके उत्कृष्ट कार्य हेतु सम्मानित किया गया।


साथ ही में कार्यरत वैज्ञानिक डॉ. श्यामनाथ, कृषि विज्ञान केन्द्र, बागेश्वर में कार्यरत सहायक मुख्य तकनीकी अधिकारी, डॉ. कमल कुमार पाण्डे, सीएलटीएस राजेन्द्र सिंह कनवाल, विभिन्न शोध परियोजनाओं में कार्यरत डॉ. हेमलता जोशी, कु. ममता जोशी, फैज़ा शाहिद, रोहित कपिल तथा संस्थान के कोरोना योद्धाओं डॉ. आशीष कुमार, बृज मोहन पाण्डे, सनाउल्लाह भट्ट को भी सम्मानित किया गया। 

उत्तराखंड से बड़ी खबर- एसएस संधू (Sukhbir Singh Sandhu) बने मुख्य सचिव, ओमप्रकाश को मिले यह जिम्मेदारी


साथ ही इस वर्ष एवं आगामी वर्ष में सेवानिवृत्त हो रहे कार्मिकों बीसी पाण्डे, कृष्ण लाल, प्रहलाद सिंह एवं उमेद सिंह को लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानि
त किया गया। इस अवसर संस्थान के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी भौतिक/ डिजिटल माध्यम से उपस्थित रहे। 


स्थापना दिवस कार्यक्रम का समन्वयन वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. रेनू जेठी एवं वैज्ञानिक डा. कुशाग्रा जोशी ने किया तथा धन्यवाद प्रस्ताव प्रभागाध्यक्ष, फसल उत्पादन विभाग डॉ. जे. के. बिष्ट ने ज्ञापित किया। समारोह का समापन राष्ट्रगान तथा आम की दावत के साथ सम्पन्न हुआ।

सोशल मीडिया में आप हमसे फेसबुकटविटर के माध्यम से भी हमसे जुड़ सकते है। इसके साथ ही आप हमें  गूगल न्यूज पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है। हमारे वाटसप ग्रुप में जुड़ने के लिये कृपया इस लिंक को क्लिक करें

खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now