Share Article

उत्तरा न्यूज। कार्यालय संवाददाता।

कुमांऊ भर में नए साल का जश्न पर्यटन कारोबारियों के लिए फीका पड़ गया है। विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल सैलानियों के बिना सूने पडे़ है। रामनगर, नैनीताल, भीमताल, अल्मोडा, रानीखेत जैसे नजदीकी पर्यटक स्थलों पर भी सैलानी नहीं पहुंचे। अधिकांश होटलों में बुकिंग कैंसल की जा चुकी है। पर्यटकों के नहीं पहुंचने से आम स्थानीय व्यवसायियों के साथ ही बडे़ रिजोर्ट कारोबारियों में भी मायूसी है। पर्यटकों के नहीं आने का मुख्य कारण देश भर में कैब और एन आर सी को लेकर फैली हिंसा भी माना जा रहा है। वहीं मैदानी इलाकों में कोहरे के चलते यात्रा का भय बना होना भी एक कारण है। फिलहाल थर्टी फस्ट के जश्न में गुलजार रहने वाले पर्यटक स्थल इस बार वीरानी में डूबे हैं। फिलहाल कुमांऊ का पर्यटन उद्योग नए साल के जश्न में फीका नजर आ रहा है।

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Telegram Channel ज्वाइन करें।
Join Now

अपील प्रिय पाठकों उत्तरा न्यूज शुभचिंतकों की मदद से संचालित होता है। यदि आप भी चाहते है कि खबरें दबाब से मुक्त हो तो आप भी इस मुहिम में आर्थिक मदद देकर भागीदारी करें। आपकी यह मदद वैकल्पिक मीडिया के हाथों को मजबूत करेगी।Click Here


Share Article