RTI activist
Share Article

RTI activist Rajendra Negi is the founder of Devbhoomi Jan Seva Group

द्वाराहाट/अल्मोड़ा,27जुलाई 2020— जन सरोकारों के लिए समर्पित आरटीआई कार्यकर्ता (RTI activist)और देवभूमि जनसेवा ग्रुप के संस्थापक बिंता निवासी राजेन्द्र सिंह नेगी की सोमवार को ह्दय गति रूकने के चलते निधन हो गया.

RTI activist
file-photo

स्वर्गीय नेगी देहरादून में रहकर देवभूमि जनसेवा ग्रुप के माध्यम से सामाजिक संगठन भी चलाते थे. वह देहरादून ही नहीं पूरे प्रदेश की जन समस्याओं को उठाते थे(RTI activist). कर्मठ नेगी ने देवभूमि जनसेवा वट्सअप ग्रुप को भी रजिस्टर किया हुआ था.

राजेन्द्र नेगी ने अब तक मुख्यमंत्री पोर्टल में एक सौ से ज्यादा प्रदेश की समस्याओं को सरकार के सामने रखकर समाधान के प्रयास जारी था(RTI activist). यही नहीं नेगी ने देहरादून में आरटीआई के माध्यम से पथ प्रकाश, हैंड पंम्प, नगर निगम देहरादून, आवारा जानवर आदि समस्याओं सहित कई जन सरोकारों से जुड़े मुद्दों को उठाकर उनके समाधान करने में सफल रहे थे.

अल्मोड़ा के द्वाराहाट बिंता निवासी नेगी (RTI activist)अपने क्षेत्र की समस्याओं के लिए भी सदैव तत्पर रहते थे. गगास-बग्वालीपोखर सड़क मार्ग, लाईट की समस्या, पारकोट इंटर कॉलेज में शिक्षकों की नियुक्ति सहित कई क्षेत्रीय समस्याओं को भी नेगी अलग-अलग मंचों पर उठाते रहे(RTI activist).

उनके परिचितों से मिली जानकारी के अुनसार सोमवार की सुबह देहरादून में अपने कार्यालय भी पहुंचे. लेकिन अचानक सीने में दर्द की शिकायत पर देवभूमि जनसेवा ग्रुप के सदस्यों द्वारा उन्हें अस्पताल ले जाया गया. जहॉ उनकी मौत हो गई.

अब उनके पार्थिव शरीर को बिंता उनके घर लाने की तैयारी की जा रही है. उनके (RTI activist)निधन पर ब्लाक प्रमुख दीपक किरौला, केसीडीएफ के अध्यक्ष भूपेन्द्र कांडपाल, भाजपा नेता कैलाश भट्ट, पूर्व प्रमुख ममता भट्ट, हेमन्त साह, आशीष वर्मा,वरिष्ठ पत्रकार जगत रौतेला, रमेश त्रिपाठी, संजय मठपाल, धीरेन्द्र मठपाल, बीरेन्द्र बजेठा, मनोज अधिकारी, जगदीश बुधानी, बलबीर भंडारी सहित क्षेत्रीय लोगों ने दुख व्यक्त किया है.

इधर द्वाराहाट के विधायक महेश नेगी ने कहा कि राजेन्द्र नेगी जन समस्याओं के समाधान के लिए हमेशा संघर्षशील रहते थे. कहा कि ‘वह कई बार मेरे पास समस्याओं के लेकर आते थे’ उनके द्वारा कभी भी व्यक्तिगत समस्या के लिए नहीं कहा गया। जो भी मदद होगी की जायेगी’.

पूर्व विधायक मदन बिष्ट ने कहा कि ‘नेगी के मौत की खबर सुनकर स्तब्ध हूं. जन सरोकारों से जुड़े नेगी हमेशा क्षेत्र की समस्याओं के लिए लगे रहते थे.’ उनके निधन के बाद परिवारजनों के लिए जो भी मदद होगी की जायेगी.’

पूर्व विधायक पुष्पेश त्रिपाठी ने कहा कि’राजेन्द्र नेगी सामाजिक सरोकारों से जुड़े हुए आरटीआई कार्यकर्ता होने के साथ बहुत अच्छे इंसान भी थे. उनकी मृत्यु का दुखद समाचार सुनकर बहुत दुखी हूं. जो भी मदद होगी की जायेगी’

वीडियो अपडेट के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को लाइक व सब्सक्राइब करें लिंक नीचे दिया गया है

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw


Share Article