breaking
Share Article

prd personal of uttarakhand requested for no diduction in salary

राज्य सरकार के अनेक विभागों में विभिन्न पदों पर कार्यरत युवा कल्याण एवं प्रांतीय रक्षक दल prd के जवान जो कि कोरोना संक्रमण काल के दौरान भी अपने अपने विभागों में विभिन्न प्रकार की ड्यूटी में मुस्तैद रहे हैं अपने वेतन में कटौती से आहत है। वेतन कटौती रोकने संबंधी अपनी मांग को लेकर जवानों ने जिलाधिकारी अल्मोड़ा को ज्ञापन दिया है तथा यथाशीघ्र वेतन कटौती रोकने एवं उचित कार्रवाई करने की मांग की है।

WhatsApp Image 2020 06 11 at 2.19.51 PM
https://uttranews.com/wp-content/uploads/2020/06/IMG-20200525-WA0035.jpg

पीआरडी कर्मचारी (prd) का कहना है कि वे पूरी निष्ठा से विभागीय कार्यों को पूर्ण कर रहे हैं लेकिन इसके बावजूद भी हर महीने 2 से 3 दिन का वेतन काट दिया जा रहा है। जवानों ने कहा कि गरीब परिवार से होने और बढ़ती महंगाई के बीच उनके सामने रोज आर्थिक समस्याएं पैदा हो रही है तथा बचत भी प्रभावित हो रही है।

बताते चलें कि कर्मचारियों को मात्र 500 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से भुगतान किया जाता है। इससे पूर्व विभाग ने कर्मचारियों की बचत को बढ़ाने के लिए पीएफ योजना की शुरुआत करने की बात कही थी जो कि अभी तक लागू नहीं हो पाई है। अनेक वर्षों से विभिन्न विभागों में कार्य कर रहे जवान अनुभव के आधार पर रिक्त पदों पर समायोजन, वेतनमान वृद्धि की मांग भी उठा चुके हैं।

ज्ञापन देने वालों में युवा कल्याण एवं प्रांतीय रक्षक दल के जिला अध्यक्ष चिंताराम आगरी, जिला उपाध्यक्ष गणेश प्रसाद, सुनील, आनंद बल्लभ, संतोष कुमार, गोकुल दुर्गापाल, अनुज कुमार, केसर सिंह, चंदन सिंह, संदीप सहित अनेक जवान आदि मौजूद रहे ।

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

"https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/

Join WhatsApp & Telegram Group

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Telegram Channel ज्वाइन करें।
Join Now

अपील प्रिय पाठकों उत्तरा न्यूज शुभचिंतकों की मदद से संचालित होता है। यदि आप भी चाहते है कि खबरें दबाब से मुक्त हो तो आप भी इस मुहिम में आर्थिक मदद देकर भागीदारी करें। आपकी यह मदद वैकल्पिक मीडिया के हाथों को मजबूत करेगी। Click Here


Share Article