cloud
Share Article

मुनस्यारी (Munsyari) ब्लॉक के दूरस्थ क्षेत्र तहसील बंगापानी में में कहर बनकर टूटी थी बारिश

पिथौरागढ़। मुनस्यारी (Munsyari) ब्लॉक के आपदा प्रभावित गांव टांगा मुनियाल में चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन में बुधवार को तीसरे दिन तीन और शव बरामद किए गए, जिसमें 10 और 12 साल के दो भाई-बहन शामिल हैं। अतिवृष्टि के बाद लापता हुए 11 लोगों में से अब तक 7 लोगों के शव मलबे से बरामद किये जा चुके हैं। बुधवार को शाम तक क्षेत्र में बारिश नहीं हुई, जिससे खोजबीन का कार्य बाधित नहीं हुआ।

   गौरतलब है कि बीती रविवार की रात मुनस्यारी (Munsyari) ब्लॉक के दूरस्थ क्षेत्र तहसील बंगापानी के अन्तर्गत ग्राम टांगा मुनियाल, गैला में बादल फटने से भारी तबाही मची। टांगा मुनियाल में तीन मकान मलबे में जमीदोज हो गए, जिसके बाद 11 ग्रामीणों का पता नहीं चला, जबकि ग्राम गैला में भी दो-तीन घर मलबे में तब्दील हो गए। यहां दो महिलाओं सहित एक ही परिवार के तीन लोग काल के मुंह में समा गए। अगले दिन सोमवार को तीनों के शव बरामद कर लिये गए थे। बादल फटने से मदकोट के बाता सहित दो अन्य गावों में भी काफी नुकसान हुआ। अतिवृष्टि के दौरान इन गांवों में अनेक लोग घायल भी हो गए।

   मुनस्यारी (Munsyari) ब्लॉक के दूरस्थ क्षेत्र तहसील बंगापानी में घटी इस घटना के बाद राहत और बचाव कार्य के बीच टांगा मुनियाल में मंगलवार को चार शव बरामद किए गए थे। बारिश के चलते इस दौरान खोजबीन के काम में काफी बाधा आयी।

एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, पुलिस, राजस्व कर्मियों, आपदा प्रबंधन की टीम और क्षेत्रवासियों ने बुधवार को फिर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया, जिसमें लापता तीन और लोगों के शव मलबे से बरामद किए गए।

मंगलवार को मिला था दोनों बच्चों के पिता का शव  

इनकी शिनाख्त 65 वर्षीया तुलसी देवी पत्नी माधो सिंह, 12 साल के दिव्यांशु और 10 साल की लतिका के रूप में की गई है। इन बच्चों के पिता गणेश सिंह का शव मंगलवार को बरामद किया गया था। खोज एवं बचाव का काम और तेजी से किये जाने को एसडीआरएफ के 14 और जवानों की टीम बुधवार को क्षेत्र में पहुंच गई है।

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/


Share Article