Uttra news
उत्तराखंड कार्मिक एकता मंच के वेबिनार में इन मुद्दों पर हुई चर्चा
 

अल्मोड़ा। उत्तराखंड कार्मिक एकता मंच के आज सम्पन्न बेबिनार में अनेक आवश्यक मुद्दों पर चर्चा की गई तथा कार्मिकों के सेवा सम्बन्धी मामलों के समयबद्ध समाधान हेतु राज्य के समूचे कार्मिक समुदाय से एक मंच पर आने का आह्वान किया गया। यह तय किया गया कि आगामी 20 जुलाई को हवालबाग (अल्मोड़ा) में एक सम्मेलन किया जायेगा।

बेबिनार में सरकार से हर माह की पहली तारीख को प्रत्येक कार्मिक को वेतन का भुगतान सुनिश्चित कराने की मांग भी की गई। बेबिनार की अध्यक्षता करते हुए एकता मंच के अध्यक्ष रमेश चंद्र पाण्डे ने हड़तालों के प्रति जवाबदेही तय किये जाने पर बल देते  हुए कहा कि संवादशून्यता और वादाखिलाफी हड़ताल के प्रमुख कारण हैं। हाइकोर्ट ने आये दिन होने वाली हड़तालों पर विराम लगाने के लिए सरकार को संवादशून्यता समाप्त करने के आदेश दिए थे। 

कहा कि सरकार ने सभी विभागाध्यक्षों को हर तीसरे माह कार्मिक संघों के साथ बैठक करने का आदेश जारी कर कोर्ट को तो बता दिया कि आदेश का पालन कर दिया है लेकिन धरातल पर आज तक इसका पालन नहीं हुआ है । अधिकारी कार्मिकों की बात सुनने तक को राजी नहीं है। ब्यूरोक्रेसी के इस रवैये से ही सरकार के प्रति नाराजगी है। उन्होंने कहा कि कार्मिकों के पदोन्नति के मामलों के समयबद्ध निस्तारण हेतु सरकार ने बेहतरीन व्यवस्था बनाई है लेकिन अधिकारियों की मनमानी से पदोन्नति के मामले लटके हैं।

उन्होंने कहा कि बेवजह रोके गये पदोन्नति जैसे रूटीन के मामलों में जबावदेही तय कराने हेतु एकता मंच कोई भी कुर्बानी देने के लिए तैयार है । 
बेबिनार में कहा गया कि गोल्डन कार्ड देकर कार्मिकों के साथ मजाक किया गया है । इसके समाधान हेतु जहां सचिवालय संघ की ओर से लगातार की जा रही पहल को सराहा गया वहीं अन्य परिसंघों की मूकदर्शिता पर सवाल उठाते हुए सभी से इस मजाक का माकूल जवाब देने के लिए एकजुट होने की अपील की गई । 

बेबिनार में सभी संघों और परिसंघों के शीर्ष स्तर पर एक सर्वमान्य महासंघ स्थापित करने की दिशा में सक्रियता लाने का निर्णय लिया गया। गढ़वाल मंडल के सभी जनपदों में एकता मंच के संयोजक मण्डल के गठन हेतु मण्डलीय संयोजक सीताराम पोखरिया को अधिकृत किया गया। एक स्वर से पुरानी पेंशन बहाली हेतु जारी मुहिम को मुकाम तक पहुंचाने में पूर्ण सहयोग व समर्थन देने का संकल्प लिया गया। 

बेसिक से एलटी में पदोन्नत/समायोजित शिक्षकों को चयन प्रोन्नत वेतनमान दिये जाने के मामले में अधिकारियों को हीलाहवाली से बाज आने की चेतावनी दी गयी। लेखा परीक्षा अधिकारी के पद पर पदोन्नति हेतु समयसीमा तय किये जाने की मांग को लेकर सहायक लेखा परीक्षा अधिकारी रमेश चन्द्र पाण्डे द्वारा आगामी 16 जुलाई से अल्मोड़ा में आमरण अनशन करने के निर्णय का पुरजोर समर्थन करते हुए शासन व आडिट निदेशालय के संवेदनहीन रवैये की कड़ी निन्दा की गई । मंच के संरक्षक पंकज काण्डपाल व वरिष्ठ उपाध्यक्ष धीरेन्द्र पाठक  ने आगाह किया कि समय रहते समय सीमा तय नहीं हुई तो इसके गम्भीर परिणाम होंगें।

बैठक का संचालन मंच के महासचिव दिगम्बर फुलोरिया ने किया। बेबिनार में डिप्लोमा इंजीनियर महासंघ के महासचिव अजय बेलवाल, निगम अधिकारी कर्मचारी महासंघ के महासचिव बी०एस०रावत, जनपद रुद्रप्रयाग के संयोजक मानवेन्द्र बर्त्वाल, जनपद नैनीताल के संयोजक  विजय तिवारी, गढ़वाल मण्डल के संयोजक सीताराम पोखरिया, रणवीर सिंह सिंधवाल, आनन्द सिंह, गिरजाभूषण जोशी , प्रदीप चमोली आदि उपस्थित थे।

सोशल मीडिया में आप हमसे फेसबुकटविटर के माध्यम से भी हमसे जुड़ सकते है। इसके साथ ही आप हमें  गूगल न्यूज पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है। हमारे वाटसप ग्रुप में जुड़ने के लिये कृपया इस लिंक को क्लिक करें

खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now