Uttra news
Bageshwar- जनपद में स्वास्थ्य सुविधाओं की हुई समीक्षा
 

बागेश्वर। 13 सिंतबर, 2021- जनपद में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने के लिए स्वास्थ एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार के दिशा निर्देशों के अनुपालन में 15वें वित्त आयोग के अंतर्गत जिलाधिकारी विनीत कुमार की अध्यक्षता में जिला कार्यालय सभागार में जिला स्तरीय समिति की बैठक आयोजित की गयी। बैठक में अध्यक्ष जिला पंचायत बंसती देव, अध्यक्ष नगर पालिका सुरेश खेतवाल, ब्लॉक प्रमुख बागेश्वर पुष्पा देवी आदि ने भी बैठक में प्रतिभाग किया। 

बैठक मे जिलाधिकारी द्वारा 15वें वित्त आयोग के अंतर्गत जनपद में उपलब्ध करायी जाने वाली स्वास्थ्य सुविधाओ के संबंध में मुख्य चिकित्साधिकारी से जानकारी प्राप्त की। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 सुनीता टम्टा ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि स्वास्थ एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार के दिशा निर्देशों के क्रम में जनपद स्तर पर समग्र प्राथमिक स्वास्थ देखभाल प्रणाली को मजबूत करने के लिए जनपद को प्राप्त होने वाले स्वास्थ अनुदान के प्रभाव और उपयोग के लिए एक निश्चित तंत्र के साथ-साथ पांच वर्षो के लिए डिलिवरेबल्स और परिणामों के एक समयरेखा तैयार किये जाने के लिए जनपद स्तर पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया है, जिसमें मुख्य विकास अधिकारी संयोजक, ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज विभाग के जिला स्तरीय अधिकारी, मुख्य/वरिष्ठ कोषाधिकारी, शहरी विकास विभाग के जिला स्तरीय अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, राष्ट्रीय स्वास्थ मिशन एन.एच.एम., जिला लेखा प्रबंधक राष्ट्रीय स्वास्थ मिशन एन.एच.एम., ग्रामीण एवं शहरी निकायों के सभी तीनों स्तर के चयनित प्रतिनिधि सदस्य नामित किये गये है। 

उन्होने अवगत कराया कि जनपद में स्वास्थ देखभाल प्रणाली को मजबूत करने के लिए सभी स्वास्थ उपकेंद्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ केंद्र, राजकीय ऐलोपैथिक चिकित्सालय स्तर पर स्वास्थ संबंधी जांच हेतु जनपद की जनसंख्या के अनुसार विभिन्न स्वास्थ सुविधाओं हेतु बजट का प्राविधान किया गया है जिसमें जनपद बागेश्वर को 01 करोड, 95 लाख की धनराशि प्रस्तावित की गयी है। उन्होने अवगत कराया कि जनपद में कुल 89 सब सेंटर है, जिसमें 29 पी.एच.सी. में सी.एच.ओ. तैनात है। 

बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दियें कि 15वें वित्त आयोग के अंतर्गत जनपद में स्वास्थ सुविधाओं को और बेहतर एवं मजबूत करने के डायग्नोस्टिक की व्यवस्था सभी सब सेंटरों एवं पी.एच.सी. में करनी हैं, इसके लिए सभी पी.एच.सी. एवं सब सेंटरों में यह व्यस्था सुनिश्चित कराते हुए इसमें बजट का भी प्राविधान किया जाय। उन्होंने कहा कि 29 पी.एच.सी. सेंटरों में सी.एच.ओ. की तैनाती हो चुकी है। तथा इस वर्ष के अंत तक 40 से 45 और सी.एच.ओ. की तैनाती हो जायेगी, जिससे सभी सेंटरों में डायग्नोस्टिक की व्यवस्था की जायेगी जिसके लिए बजट का प्राविधान भी किया गया है। उन्होने यह भी कहा कि जनपद बागेश्वर के अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ केंद्र कंधार एवं काफलीग्ौर का भी चयन कर स्वास्थ संबंधी जांच करने के भी निर्देश दियें गये। उन्होने कहा कि जनपद के 41 उपकेंद्रों में विकास खंड बागेश्वर में 12, गरूड में 10 तथा कपकोट के 19 उपकेंद्रों मे स्वास्थ संबंधी जांचों हेतु चयन किया गया है। जिसमें 15वे वित्त आयोग का मुख्य उद्देश्य ग्राम्य स्तर पर स्वास्थ जांचों को बढावा देना है, ताकि आमजनमानस को उक्त स्वास्थ संबंधी जांचो की नि:शुल्क सुविधा उपलब्ध प्राप्त हो सके। 

बैठक में जनपद की स्वास्थ सुविधाओं को बेहतर करने के लिए 252.77 लाख का प्रस्ताव अनुमोदित हेतु राज्य को प्रेषित करने हेतु मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया गया। बैठक में अपर जिलाधिकारी चन्द्र सिंह इमलाल, जिला विकास अधिकारी केएन तिवारी, वरिष्ठ कोषाधिकारी पूरन चन्द्र उप्रेती, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 वीके0सैक्सेना आदि मौजूद रहे।

सोशल मीडिया में आप हमसे फेसबुकटविटर के माध्यम से भी हमसे जुड़ सकते है। इसके साथ ही आप हमें  गूगल न्यूज पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है। हमारे वाटसप ग्रुप में जुड़ने के लिये कृपया इस लिंक को क्लिक करें

खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now