Uttra news
प्रभारी एसओ पर ताना तमंचा, दो गिरफ्तार
 
 

नानकमत्ता। यहां दुस्साहसिक घटनाक्रम में क्षेत्र पंचायत सदस्य ने पुलिस थाने के प्रभारी एसओ पर तमंचा तान दिया। गनीमत रही कि ​आरोपी ने ट्रिगर नही दबाया नही तो कोई अनहोनी हो सकती थी। इस मामले में पुलिस ने क्षेत्र पंचायत सदस्य सहित दो को गिर​गिरफ्तार किया है। 

प्रभारी एसओ के ऊपर तमंचा तानते ही हड़कंप मच गया लेकिन पुलिसकर्मियों ने तत्परता दिखाते हुए क्षेत्र पंचायत सदस्य को काबू करके बाहर निकाला और बाद में उसे गिरफ्तार कर लिया। मामले की जानकारी ​वरिष्ठ अधिकारियों की दी गई जिसके बाद एसओ मौके पर पहुंचे। मामले की जानकारी तुरंत वरिष्ठ अधिकारियों को दे दी गई। 

मामला कल देर सायं का बताया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक नानकमत्ता के प्रभारी थानाध्यक्ष नवीन बुधानी दो पक्षों के साथ हुए विवाद में दोनो पार्टियों का पक्ष सुन रहे थे। और वहां शिकायतकर्ता बिडौरी निवासी विकास और विपक्षी खेमपुर निवासी शेरी मौजूद थे। और अचानक वहां क्षेत्र पंचायत सदस्य जोगा सिं बुधानी के कार्यालय कक्ष में आये । बुधानी के अनुसार जोगा सिंह ने उन्हें गालियां दे रहा था और उन्होंने उसे पास बुलाकर बातचीत के लिये इशारा किया तो जोगा सिंह शेरी को थाने में बुलाने की बात को लेकर भड़क उठा। पुलिसकर्मियो का आरोप है कि जोगा सिंह ने शेरी को जबरदस्ती थाने से अपने साथ ले जाने का प्रयास किया। आरोप है कि जब प्रभारी थानाध्यक्ष बुधानी ने विरोध किया तो जोगा​ सिंह ने अपनी राजनैतिक पहुंच की बात कहकर बुधानी सहित अन्य पुलिस वालों को जान से मारने की धमकी दी। आरोप है कि जोगा सिंह के साथ शेरह भी पुलिस​कर्मियों पर भड़क उठा। 

पुलिसकर्मियों का आरोप है कि जोगा सिंह ने क्षेत्र पंचायत सदस्य होने की बात कहने के साथ ही अभी भीड़ एकत्रित कर जलाने की धमकी दी। यह बात सुनकर जब बुधानी ने जोगा सिंह को टोका तो जोगा सिह व शेरी सिंह ने पुलिसकर्मियों के साथ हाथापाई शुरू कर दी। अचानक जोगा सिंह ने पैन्ट की जेब में हाथ डालकर तमंचा निकालकर पुलिसकर्मियों पर तान दिया। 

 प्रभारी एसओ बुधानी ,हवलदार ईश्वरी दत्त शर्मा, सिपाही सुरेन्द्र सिह, गिरीश चन्द्र मठपाल,सुरेश कुमार आदि ने बड़ी मुश्किल के बाद जोगा सिंह पर काबू पाया।  इस दौरान सिपाही सुरेन्द्र सिंह को चोटे भी आईं है। पुलिसकर्मियों  ने तत्परता दिखाते हुए जोगा सिंह से तमंचा छीन लिया। तमंचे के बैरल में एक 315 बोर का एक कारतूस भी पड़ा हुआ था और फायरिंग पिन सही काम कर रही थी। इसके बाद पुलिस कर्मियों ने जोगा सिंह पर काबू पाया और उसकी तलाशी ली। कांस्टेबल गिरीश मठपाल ने तलाशी के दौरान जोगा सिंह की पैन्ट की जेब से 315 बोर के 2 जिन्दा कारतूस बरामद करने के साथ ही उसका फोन व पर्स भी कब्जे में लिया। वही शेरी की तलाशी लेने पर उसके पास कोई संदिग्ध वस्तु बरामद नही हुई। 


थाने में तमंचे निकाले जाने की जानकारी मिलने पर सीओ खटीमा मनोज ठाकुर मौके पर पहुंचे। इस मामले में आरोपित 27 वर्षीय जोगा सिंह हरैया गांव का रहने वाला है। इस मामले में रिपोर्ट दर्ज हो गई है। पता चला है कि जोगा सिंह के पास पाया गया तमंचा अवैध था। 

सोशल मीडिया में आप हमसे फेसबुकटविटर के माध्यम से भी हमसे जुड़ सकते है। इसके साथ ही आप हमें  गूगल न्यूज पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है। हमारे वाटसप ग्रुप में जुड़ने के लिये कृपया इस लिंक को क्लिक करें

खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now