Uttra news
पासम में फैला डायरिया मेडिकल टीम पहुंची गांव में
 पासम गांव के पेयजल का लिया जाएगा सैंपल
 

चंपावत,07 सितंबर 2021— चंपावत जिले के नेपाल सीमा से लगे दूरस्त पासम गांव में डायरिया फैलने की सूचना के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में पहुंच गई है।  
नेपाल सीमा से लगे गांवों में डायरिया के मरीज सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम की ओर सोमवार को पासम गांव जाकर लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। इस दौरान आधा दर्जन बच्चों में डायरिया पाया गया। जबकि अन्य लोगा वायरल फीवर से ग्रसित मिले। 

जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बच्चों के साथ 60 अन्य मरीजों का उपचार किया गया है। इधर सुल्ला, मटियानी, देवकुड़ा, डुंगराबोरा, मढुवा, कायल, सिमैल, गागरी, कुनाड़ी आदि गांवों में भी डायरिया के मरीज सामने आ रहे हैं। 


सीएमओ डा.आरपी खंडूरी ने बताया कि क्षेत्र के सभी एएनएम सेंटरों में ओआरएस घोल समेत सभी जरूरी दवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। जहां डायरिया के मरीज ज्यादा हैं वहां के पेयजल की जांच भी की जा रही है। इधर डायरिया से ग्रसित सुल्ला गांव की ग्राम प्रधान सावित्री सामंत समेत आधा दर्जन अन्य ग्रामीणों का उपचार अभी भी जिला अस्पताल में चल रहा है। पासम गांव में उपचार करने वाली टीम में फार्मासिस्ट मनोज कुमार, एलडी जोशी, प्रदीप वर्मा आदि शामिल रहे। जिला अस्पताल के चिकित्सक डा. कुलदीप यादव ने जांच के लिए गांव के पेयजल का सैंपल लिया। सीएचसी लोहाघाट के सीएमएस डा. जुनैद कमर के नेतृत्व में डाक्टरों की टीम ने बीमारी से बचाव के लिए टीकाकरण भी किया।

 

सोशल मीडिया में आप हमसे फेसबुकटविटर के माध्यम से भी हमसे जुड़ सकते है। इसके साथ ही आप हमें  गूगल न्यूज पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है। हमारे वाटसप ग्रुप में जुड़ने के लिये कृपया इस लिंक को क्लिक करें

खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now