Uttra news
30 साल से था फरार, पुलिस ने किया आश्रम से गिरफ्तार
 वारंटी छिपा था आश्रम में, अल्मोड़़ा पुलिस कर लाई गिरफ्तार
 


फर्जीवाड़े के एक मामले में 30 साल से फरार चल रहे आरोपी को पुलिस ने यूपी के संभल जिले के एक आश्रम से गिरफ्तार कर लिया है। 

  पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक पूर्ववती अल्मोड़ा जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में नवरत्न सिंह उर्फ राजू पुत्र हरेन्द्र सिंह निवासी. ग्राम भिरावली, थाना धनारी, जिला सम्भल उ0प्र0 फर्जी दस्तावेजों के आधार पर लैब असिस्टेंट के पद पर कार्य कर रहा था। और उसके दस्तावेज जाली पाये जाने पर तत्कालीन सीएमओ ने उसके खिलाफ वर्ष 1991 में शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके बाद कोतवाली अल्मोड़ा में धारा 465/468/471/420 भा0द0वि0 के तह अभियोग पंजीकृत कर पुलिस टीम ने उसे गिरफ्तार किया गया था। बाद में उसे न्यायालय से जमानत मिल गई थी और जमानत मिलने के बाद से वह फरार चल रहा था। 

न्यायालय ने उसकी कुर्की की कार्यवाही करते हुए उसे फरार घोषित किया था। और वर्ष वर्ष 1991 से लगातार तलाश की जा रही थी। पंकज भट्ट वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा ने वारंटियों की गिरफ्तारी हेतु  लगातार चलाये जा रहे अभियान के अन्तर्गत टीम गठित की है। उक्त टीम ने ने लगातार दबिश एवं सुरागरसी पतारसी से अभियुक्त नवरत्न उर्फ राजू को हरबाबा की बाॅध आश्रम थाना रजपुरा, जिला सम्भल से दिनाॅक27 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी टीम में शामिल उप निरीक्षक गौरव जोशी ने बताया कि विगत 30 वर्षो से पुलिस को नवरत्न सिंह की तलाश थी और वह हरिबाबा की बाॅध आश्रम में छुपा हुआ था और पुलिस टीम ने उसे आश्रम से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस टीम में उप निरीक्षक गौरव जोशी के साथ कॉस्टेबल बलराम सिंह, धनी राम शामिल थे। 

सोशल मीडिया में आप हमसे फेसबुकटविटर के माध्यम से भी हमसे जुड़ सकते है। इसके साथ ही आप हमें  गूगल न्यूज पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है। हमारे वाटसप ग्रुप में जुड़ने के लिये कृपया इस लिंक को क्लिक करें

खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now