जिला योजना का बजट खर्च नहीं हुआ तो नपेंगे विभागीय अधिकारी, आयुक्त ने दिए निर्देश

अल्मोड़ा। आयुक्त कुमाऊं मण्डल राजीव रौतेला ने वीडियो कान्फ्रेसिंग द्वारा मण्डल के जनपदों की जिला योजना, राज्य सैक्टर, केन्द्र सहायतित योजनाओं के अन्तर्गत व्यय की गयी धनराशि की समीक्षा की गयी। इस दौरान कई विभागों द्वारा जिला योजना में स्वीकृत धनराशि से कम खर्च किए जाने पर आयुक्त ने वित्तीय वर्ष की समाप्ति तक विकास योजनाओं में इस बजट को खर्च किए जाने के निर्देश दिए। कहा कि जिन परिव्यय विभिन्न योजनाओं में धनराशि स्वीकृत की गई है उसे मार्च तक शत-प्रतिशत व्यय करना सुनिश्चित करें। आयुक्त ने कहा कि स्वीकृत धनराशि का पूर्ण व्यय नहीं करने वाले विभागीय अधिकारियों पर कार्यवाही की जाएगी।

जिला योजना का बजट खर्च नहीं हुआ तो नपेंगे विभागीय अधिकारी, आयुक्त ने दिए निर्देश 2
जिला योजना का बजट खर्च नहीं हुआ तो नपेंगे विभागीय अधिकारी, आयुक्त ने दिए निर्देश 3

जनपद की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने जिला योजना में स्वीकृत धनराशि 45.23 करोड़ के सापेक्ष 37.63 करोड़ रूपये (82 प्रतिशत) वर्तमान तक व्यय किये जाने पर संतोष जताते हुए कहा कि अवशेष धनराशि को तय समय के अन्तर्गत व्यय किया जाय। समाज कल्याण विभाग के शिविर में धनराशि व्यय नहीं होने, वन विभाग व पशुपालन द्वारा कम व्यय किये जाने पर सम्बन्धित अधिकारियों को इस माह के अन्त तक प्रगति लाने के निर्देश दिये।

लोक निर्माण विभाग द्वारा बनाये जाने वाले पुल व सड़कों में किये जाने वाले व्यय में तेजी लाने के निर्देश उनके द्वारा दिये गये। राज्य सैक्टर में विधायक निधि के अन्तर्गत आशातीत प्रगति नहीं होने पर उन्होंने जिलाधिकारी को व्यक्तिगत रूचि लेते हुए विधायकों से प्रस्ताव प्राप्त करते हुए योजनाओं में व्यय करने के निर्देश दिये। वहीं, जल निगम की विभिन्न योजनाओं में भी कम प्रगति पर उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को साप्ताहिक समीक्षा करते हुए प्रगति लाने के निर्देश दिये।

इसके अलावा उन्होंने निर्देश दिये कि लोनिवि में भी राज्य सैक्टर के अंतर्गत काफी धनराशि व्यय नहीं की जा सकी है। जिस पर डीएम ने बताया कि इस माह के अन्त तक बेहतर प्रगति लायी जायेगी। आयुक्त ने पंचायती राज विभाग द्वारा राज्य सैक्टर के अन्तर्गत ग्राम सभाओं को दी जाने वाली धनराशि को यथाशीघ्र ग्राम पंचायतों के माध्यम से व्यय करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि नव गठित पंचायतों को जानकारी के अभाव में धनराशि लैप्स न हो जाय इसके लिए उन्हें प्रशिक्षण व मदो की जानकारी सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारियों के माध्यम से दी जाय।

जिला योजना का बजट खर्च नहीं हुआ तो नपेंगे विभागीय अधिकारी, आयुक्त ने दिए निर्देश 4

केन्द्र पोषित व बाह्य सहायतित योजनाओं की समीक्षा के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी को वर्ष 2018-19 की स्वीकृत धनराशि को व्यय करने के निर्देश दिये। इसके अलावा उन्होंने केन्द्र पोषित योजनाओं के अन्तर्गत शिक्षा, कृषि, पंचायती राज, स्वजल, जल निगम, नगर विकास विभागों को स्वीकृत धनराशि को समय से व्यय करने के निर्देश दिये।


इस दौरान सीडीओ मनुज गोयल, डीएफओ सिविल सोयम केएस रावत, सीएमओ डॉ. सविता हृयांकी, ईई लोनिवि डीएस हृयांकी, डीईओ माध्यमिक एचबी चंद, अर्थ एवं संख्याधिकारी जीएस कालाकोटी, अपर संख्याधिकारी कुन्दन लाल के अलावा अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

जिला योजना का बजट खर्च नहीं हुआ तो नपेंगे विभागीय अधिकारी, आयुक्त ने दिए निर्देश 5
जिला योजना का बजट खर्च नहीं हुआ तो नपेंगे विभागीय अधिकारी, आयुक्त ने दिए निर्देश 6

उत्तरा न्यूज के द्वारा खबरें व्हाट्सएप पर सबसे पहले पाने के लिए 9456732562, 9412976939 और 9639630079 पर फीड लिख कर भेंजे…..
आप हमारे फेसबुक पेज ‘उत्तरा न्यूज’ व न्यूज ग्रुप uttra news से भी जुड़कर अपडेट प्राप्त कर सकते हैं| click to like facebook page
यूट्यूब पर वीडियोज के सबसे पहले अपडेट पाने के लिए youtube पर uttranews को सब्सक्राइब करें। click to see videos

%d bloggers like this: