दुखद: शिक्षक डॉ. प्रभाकर जोशी को पितृशोक, विभिन्न संगठनों ने जताया दुख

अल्मोड़ा। नगर के रानीधारा निवासी शिक्षक डॉ. प्रभाकर जोशी के पिता मोहन चंद्र जोशी का निधन हो गया है। वह 68 वर्ष के थे और लंबे समय से अस्वस्थ्य चल रहे थे।

बीते बुधवार को उन्होंने टाटा मैमोरियल हॉस्पिटल, मुंबई में अंतिम सांस ली। देर शाम उनका अंतिम संस्कार मुंबई में ही किया गया। वह अपने ​पीछे पत्नी, दो बेटों व एक बेटी को छोड़ गए है।

स्व. जोशी लो​क निर्माण विभाग से प्रशासनिक अधिकारी के पद से सेवानिवृत्त हो चुके थे। वर्तमान में वह रानीधारा नागरिक सेवा समिति के संरक्षक थे। उनके बड़े पुत्र डॉ. प्रभाकर जोशी यहां नगर से लगे राइंका स्यालीधार में प्रवक्ता के पद पर कार्यरत है।

स्व. जोशी अपनी ईमानदारी व कर्तव्यनिष्ठा के लिए जाने जाते थे। इसके अलावा वह सामाजिक कार्यों में भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते थे। वह एक धार्मिक व्यक्ति थे। उनके निधन पर रानीधारा नागरिक सेवा समिति, लोनिवि के अधिकारियों व कर्मचारियों समेत शिक्षक संगठनों ने दुख जताया है।

%d bloggers like this: