Share Article

उत्तरा न्यूज

उत्तराखंड की चीनी मिल बंद होने पर किसानों के लिए संजीवनी बनी बहेड़ी की केसर चीनी मिल 1

उधमसिंह नगर की महत्वपूर्ण सितारगंज की चीनी मिल बंद होने पर पडो़सी राज्य यूपी के बहेड़ी की केसर इंटर प्रॉईसेस चीनी मिल राज्य के गन्ना उत्पादक किसानों के लिए संजीवनी बनकर सामने आई है।

बहेड़ी की केसर चीनी मिल ने उत्तराखंड की बंद पडी चीनी मिल के भी गन्ने की पेराई पिछले साल की और इस साल भी कर रही है जो यहा के गन्ना किसानों के लिए एक अच्छा कदम है क्योंकि सितार गंज मिल बंद होने से किसानों को काफी दिक्कत उठानी पड़ती लेकिन केसर चीनी मिल के सहयोग से ये समस्या दूर हो पायी है।

उत्तराखंड की चीनी मिल बंद होने पर किसानों के लिए संजीवनी बनी बहेड़ी की केसर चीनी मिल 2

बहेड़ी के केसर इंटरप्राइजेज चीनी मिल के अध्यक्ष शरद मिश्रा ने बताया कि मिल ने सत्र 2018-19 में कुल 109.92 लाख रू की खरीद की। जिसका 35265.24 लाख रू भुगतान सभी कृषकों के बैंक खाते में कर दिया गया है। साथ ही सत्र 2019-20 का भी भुगतान किया जा रहा है। इसका श्रेय वह कृषकों के सहयोग को देते हैं।

Join WhatsApp & Telegram Group

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Telegram Channel ज्वाइन करें।
Join Now

अपील प्रिय पाठकों उत्तरा न्यूज शुभचिंतकों की मदद से संचालित होता है। यदि आप भी चाहते है कि खबरें दबाब से मुक्त हो तो आप भी इस मुहिम में आर्थिक मदद देकर भागीदारी करें। आपकी यह मदद वैकल्पिक मीडिया के हाथों को मजबूत करेगी। Click Here


Share Article