अल्मोड़ा जिला पंचायत का नया रिकार्ड— चुनाव में भाग लेने वाले एक प्रत्याशी को नहीं मिला कोई भी मत

अल्मोड़ा।— अल्मोड़ा में जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव परिणाम आ गया है।चुनाव में कांग्रेस ने एक वोट से जीत हासिल की है लेकिन सबसे बड़ा रिकार्ड भी अल्मोड़ा में ही बना यहां चुनाव लड़ रहे तीसरे प्रत्याशी को एक भी मत नहीं पड़ा।

यह उत्तराखंड बनने के बाद अल्मोड़ा का पहला रिकार्ड है। जहां चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी को एक भी मत नहीं पड़ा जबकि मतदान शत प्रतिशत हुआ। अल्मोड़ा जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव की इस कहानी में ऐसा ही ट्वीस्ट आया है।

यहां जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए मैदान में तीन लोग खड़े थे। कांग्रेस से उमा बिष्ट,भाजपा से महेश नयाल और कांग्रेस से नाराज चल रहे सुरेन्द्र महरा ने चुनाव लड़ा था। परिणाम के बाद कांग्रेस प्रत्याशी उमा बिष्ट को 23 मत मिले, भाजपा प्रत्याशी महेश ​नयाल को 22 तो ​तीसरे प्रत्याशी सुरेन्द्र महरा को शून्य वोट मिले।

यह प्रकरण अचानक हुए राजनीतिक घटनाक्रम के तहत हुआ गुरुवार की सुबह मुख्यमंत्री के सामने पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मोहन सिंह महरा और उनके जिलापंचायत सदस्य सुरेन्द्र महरा बीजेपी में शामिल हुए।उसके बाद यह परिदृश्य सामने आया है।

जीत के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर जश्न मनाया और बाजार में जुलूस निकालकर खुशी जाहिर की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: