पंचायत चुनाव: यहां ग्राम प्रधान के पदों में हुआ कड़ा मुकाबला, 1 वोट से बदला प्रत्याशी का भाग्य, आठ विकासखंडों के 11 उम्मीदवारों ने 1 वोट से दर्ज की जीत, जानने के लिए पढ़े पूरी खबर

अल्मोड़ा। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना जारी है। मतगणना प्रक्रिया के दौरान कई गांव की सरकार अस्तित्व में आ गई है जबकि कुछ आनी बाकी है। अधिकांश सीटों का रिजल्ट घोषित होने के बाद कुछ प्रत्याशियों की धड़कने तो शांत हो गई है लेकिन रिजल्ट का इंतजार कर रहे उम्मीदवारों की धड़कने चुनावी तेज होने लगी है।


चुनावी महासंग्राम में कई उम्मीदवार अपना भाग्य आजमाने उतरे थे। सुबह से चल रही मतगणना देर शाम तक जारी है। ग्राम प्रधान के कई उम्मीदवारों के बीच कांटे की टक्कर रही। देर शाम तक जारी हुए परिणामों में 8 विकासखंडों के कुल 11 उम्मीदवारों में कड़ा मुकाबला देखने को मिला। महज 1 वोट ने इन सभी 11 प्रत्याशियों का भाग्य बदल दिया।


द्वाराहाट विकासखंड के मल्ली मिरई ग्राम पंचायत से इस बार अंजू गोस्वामी व रेखा दो उम्मीदवार मैदान में थे। ​जारी हुए परिणाम में अंजू को 354 मत हासिल हुए जबकि रेखा ने अंजू से एक वोट ​अधिक यानि 355 मत हासिल कर विजय प्राप्त की। इस ग्राम पंचायत से 32 मत खारिज हुए। इसी ब्लाक के ग्राम पंचायत बड़ेत से रेखा बिष्ट ने अपने निकटवर्ती मंजू देवी को 1 मत ये पराजित किया। रेखा को 47 तथा मंजू को 46 मत हासिल हुए जबकि 8 मत रद्द हुए। इसी विकासखंड के एक और ग्राम पंचायत बनोली में एक मत से हार—जीत तय हुई। विजयी प्रत्याशी प्रशांत सिंह को 38 तथा प्रतिद्वंदी दीवान सिंह को 37 मत प्राप्त हुए। जबकि तीन मत खारिज हुए।


विकासखंड स्याल्दे के कनारीथौड़ में दीपा देवी अपने निकटवर्ती ललित सिंह से एक वोट अधिक प्राप्त कर ग्राम प्रधान बनी। दीपा को 53 तथा ललित को 52 वोट पड़े। जबकि तीसरी उम्मीदवार पूजा देवी को 14 मत ही मिले। तीन वोट खारिज हुए।
विकासखंड भिकियासैंण के इंडा ग्राम पंचायत से हेमा देवी नाम के दो प्रत्याशियों में कड़ा मुकाबला रहा। जिसमें अनानास चुनाव चिन्ह प्रत्याशी हेमा देवी ने 68 मत प्राप्त आइसक्रीम चुनाव चिन्ह प्रत्याशी हेमा देवी को 1 वोट के अंतर से पराजित किया। तीसरी उम्मीदवार सरस्वती देवी को 11 मत पड़े। जबकि 8 मत रद्द हुए। इसी विकासखंड के ग्राम पंचायत जालली में भी दो प्रत्याशियों के बीच कड़ा मुकाबला रहा। अमरनाथ ने गंगा देवी को 1 मत से हराया। अमरनाथ को 102 मत मिले। 14 मत रद्द हुए।
विकासखंड चौखुटिया के ग्राम पंचायत भटकोट में इस बार ग्राम प्रधान के लिए कुल 6 उम्मीदवार मैदान में थे। जिसमें गीता 68 मत हासिल कर विजयी रही। उनकी निकटवर्ती भावना देवी को 67 मत ही मिले।
सल्ट के ग्राम पंचायत भकराकोट में ग्राम प्रधान पद प्रत्याशी विनीता देवी ने 79 वोट पाकर जीत दर्ज की। जबकि उनकी निकटवर्ती अं​जलि देवी को एक 78 मत प्राप्त हुए। इस ग्राम पंचायत से 6 मत रद्द हुए।
इसके अलावा लमगड़ा ब्लाक के ग्राम पंचायत सिलखोड़ा से बीना बोरा 1 मत​अधिक पाकर ग्राम प्रधान बनी। बीना को 127 तथा उनकी प्रतिद्वंदी दीपा को 126 मत मिले। 6 मत खारिज हुए। धौलादेवी ब्लाक के बजेला ग्राम पंचायत में भी प्रधान पद के लिए एक मत से जीत—हार हुई। प्रधान पद प्रत्याशी हीरा देवी ने 85 मत पाकर अपने प्रतिद्वंदी चंदन सिंह को परास्त किया। चंदन को 84 मत ​हासिल हुए। जबकि 6 मत रद्द हुए।
विकासखंड भैंसियाछाना के ग्राम पंचायत धौलनेली में भी एक म​त से ग्राम प्रधान पद के लिए जीत—हार तय हुई। यहां ग्राम प्रधान पद के प्रत्याशी दीना देवी ने उमा वाणी को 1 वोट के अंतर से परास्त किया। दीना को 108 तथा उमा वाणी को 107 वोट पड़े। इस ग्राम पंचायत से 6 मत ​खारिज हुए।

%d bloggers like this: