Advertisements

संयुक्त वार्षिक शिविर में अल्मोड़ा के एनसीसी कैड्टों का शानदार प्रदर्शन, एसएसजे के कैड्ट कई प्रतियोगिताओं में रहे अव्वल, अधिकारियों ने कैड्टों को कड़ी मेहनत कर आगे बढ़ने की दी प्रेरणा

डेस्क। रानीबाग में आयोजित 77 यूके बटालियन एनसीसी के संयुक्त वार्षिक शिविर में एनसीसी कैडटों को सैन्य विधाओं में दक्ष बनाने के साथ ही विभिन्न ​प्रतियोगिता का आयोजन कर मानसिक व बौद्धिक रूप से सक्षम बनाया जा रहा है। सुबह के सुबह पहले सत्र में कैडेटों का विद्यालयवार सेना की प्रमुख सैन्य संचलन विधा ड्रिल प्रतियोगिता का आयेाजन किया गया। जिसमें 31 विद्यालयों के कैडेटों ने प्रतिभाग किया।
प्रतियोगिता में सीनियर डिवीजन में एसएसजे परिसर अल्मोड़ा तथा जूनियर डिवीजन में जीआईसी बनकोट के कैडेटों ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। ड्रिल प्रतियोगिता के सर्वोत्तम परेड कमांडर में सीनियर अण्डर अफसर एसएसजे परिसर अल्मोडा के कमल जोशी ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। व्यक्तिगत ड्रिल प्रतिस्पर्धा में एसएसजे परिसर की कैडेट शीतल राणा, कैडेट मनीष एवं जीआईसी बनकोट के कैडेट सौरभ कुमार ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। खेल प्रतियोगिता के तहत वालीबॉल में बीटीकेआईटी द्वाराहाट ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। वर्गवार फायरिंग प्रतियोगिता में जीआईसी पनुवानौला की पूजा नेगी, बीटीकेआईटी की अपूर्वा बिष्ट, सूरज मेहता, एवं एआईसी सूरईखेत के दीपक बिष्ट ने सर्वोत्तम फायरर के रुप में प्रथम स्थान प्राप्त किया।

शिविर में प्रशिक्षण प्राप्त करते एनसीसी कैडट

युवाओ पर मीडिया के प्रभाव के संदर्भ में आयोजित की की गई वाद—विवाद प्रतियोगिता में सीनियर वर्ग में जीपीजीसी स्यालदे की मीनाक्षी रावत तथा जूनियर वर्ग में महिपाल सिराड़ी ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। दूसरी सत्र में सांस्कृतिक प्रतियोगिता के अन्तर्गत समूह नृत्य में एसएसजे परिसर ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। एकल गायन में जीपीजीसी स्यालदे एवं जीआईसी सलौज ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। एकल नृत्य प्रतियोगिता मे बीटीकेआईटी द्वाराहाट एवं जीआईसी पनुवानौला ने प्रथम स्थान प्राप्त किया।
कैम्प समादेशक कर्नल हेमन्त कुमार ने सभी प्रतिभागियों एवं उत्कृष्ट प्रदर्शन तथा स्थान प्राप्त करने वाले कैडे्टस का उत्साहवर्द्धन करते हुए प्रतिकूल अवस्था में भी जीत का जज्बा बनाये रखने का आहवान किया। शिविर प्रशिक्षण अधिकारी कैप्टन डीएस बिष्ट ने कैडेटों के अनुशासन की प्रशंसा करते हुये अनुशासन को जीवन में आत्मसात कर कठिन से कठिन चुनौती को भी स्वीकार कर जीत की ओर सदैव अग्रसर रहने की प्रेरणा प्रदान की।
इस अवसर पर शिविर प्रशिक्षण अधिकारी कैप्टन डीएस बिष्ट, सूबेदार मेजर दीवान सिंह, लेफ्टिनेंट विनोद कुमार, लेफ्टिनेंट कैलाश जोशी, लेफ्टिनेंट बीजू जैकब, तृतीय आफिसर गिरधर प्रसाद कांडपाल, तृतीय आफिसर प्रेम टम्टा बीएसएम देव सिंह वल्दिया, सीएचएम पूरन सिंह सिराड़ी, सूबेदार बलवन्त सिंह, दीवान सिंह, कल्याण सिंह, सीएचएम जीतेन्द्र सिंह, हवलदार किषोर सिंह तथा कार्यालय स्टाफ के वरिष्ठ प्रषासनिक अधिकारी हरीश भटृ, प्रधान सहायक हेमा देवी, अकील मोहम्म्द खान, पूरन सिंह बिष्ट आदि मौजूद थे।

Advertisements
style="display:block" data-ad-format="autorelaxed" data-ad-client="ca-pub-8801341327394184" data-ad-slot="2507290486">
%d bloggers like this: