जांबाज पुलिस अधिकारी विपिन पंत को होम मिनिस्टर मेडल,बेस्ट इंवेस्चीगेटर का मेडल मिला

टनकपुर सहयोगी-: गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा केन्द्रीय गृह मंत्रालय मेडल की घोषणा की है,
टनकपुर के सीओ विपिन चंद्र पंत को वेस्ट इन्वेस्टिगेशन का मेडल दिया गया है, पंत लाल कुआं के प्रभारी निरीक्षक भी रह चुके हैं ।
एक कहावत है कि अपराध करके अपराधी कितना भी सजा से बचने की कोशिश करे या अपने को शातिर समझकर कानून की नजरों से भागे लेकिन बुरे का अंजाम बुरा ही होता है और अपराधी पकड़ा ही जाता है।
उत्तराखंड के पुलिस उपाधीक्षक विपिन चन्द पन्त ने जनपद नैनीताल में मासूम के साथ दरिंदगी व हत्या करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार कर अपराधियों को फांसी के फंदे तक पहुँचाया है। केन्द्रीय गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वार मुकदमों की बहतरीन विवेचना करने के लिए विपिन चन्द पन्त को अन्वेषण में उत्कृष्टता हेतु केन्द्रीय गृह मंत्री पदक प्रदान किये जाने की घोषणा की गयी है।
21 नवंबर 2014 को रात्रि में रामलीला मैदान शीशमहल, काठगोदाम, जनपद नैनीताल में वैवाहिक कार्यक्रम में सम्मिलित होने आई एक 5-6 वर्षीय बालिका वैवाहिक कार्यक्रम समारोह से कहीं गायब हो गयी थी। इस सम्बन्ध में धारा- 365 भा0द0वि0 में प्रथम सूचना रिपोर्ट अंकित की गयी। दिनांक 25 नवंबर 2014 को गुमशुदा का शव गौला नदी में बरामद हुआ। विवेचना तत्कालीन निरीक्षक विपिन चन्द्र पन्त के सुपुर्द की गयी। मृतका का शव मिलने के उपरान्त पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर अभियोग में धारा-376/302/201 भारतीय दण्ड संहिता व 4 पोक्सो अधिनियम की वृद्धि की गयी। विवेचना के दौरान संकलित साक्ष्यों के आधार पर अख्तर अली उर्फ शमीम उर्फ राजू पुत्र मकसूद अली निवासी ग्राम व पोस्ट मेहनगिरी थाना बेतिया, चम्पारन, बिहार हाल निवासी शीशमहल काठगोदाम प्रकाश में आया, जिसे दिनांक 27 नवंबर 2014 को गिरफ्तार किया गया। विवेचना से घटना में सम्मिलित सह अभियुक्त प्रेमपाल वर्मा पुत्र लक्ष्मण प्रसाद निवासी हैदरगंज, जहानाबाद पीलीभीत हाल निवासी शीशमहल काठगोदाम एवं जूनियर मसीह उर्फ पौक्सी पुत्र हारून मसीह निवासी कन्टोपा रूद्रपुर ऊधमसिंहनगर को को गिरफ्तार किया गया। विवेचना के दौरान वैज्ञानिक साक्ष्यों, अभियुक्त अख्तर अली के DNA, कपड़े, खून, मिट्टी आदि साक्ष्य प्राप्त कर FSL से परीक्षण कराया गया, जिसमें अभियुक्त अख्तर अली का DNA मिलान होने के आधार पर तीनों अभियुक्तों के विरूद्ध आरोप पत्र न्यायालय प्रेषित किया गया। इस अज्ञात प्रकरण में 60 दिवस के अन्दर अनावरण कर आरोप पत्र प्रेषित किया गया। प्रकरण का विचारण पोक्सो कोर्ट में हल्द्वानी नैनीताल में चला जिसमें विपिन चन्द पन्त की प्रभावी कार्यवाही के फलस्वरूप माननीय न्यायालय से दिनांक 11 मार्च 2016 को अभियुक्त अख्तर अली को मृत्यु दण्ड, प्रेमपाल को 8 वर्ष के कारावास से दण्डित किया गया।पुलिस अधिकारी को यह पुरस्कार मिलने पर विधायक कैलाश गहतोड़ी पुर्व विधायक हेमेश खर्कवाल चैयरमेन विपिन कुमार वर्मा हर्षवर्धन रावत जगत सिंह रावत धर्मान्नद पान्डे ने हार्दिक बधाई दी है|

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: