शाबाश:- महाराष्ट्र में चमकी उत्तराखंड की ‘प्रभा’, बागेश्वर की इस युवा पत्रकार को मिला उत्कृष्टता का पुरस्कार

Photo- uttranews

डेस्क:- प्रतिभा किसी परिचय की मोहताज नहीं है और बादलों में धूप की तरह अपना रास्ता खुद ही बना लेती है यह कहावत देवभूमि के बागेश्वर जिले की पत्रकार प्रभा ललित सिंह नें फिर एक बार चरित्रार्थ क्या है| इस बार उनकी प्रतिभा को महाराष्ट्र में सम्मानित किया गया है|
बागेश्वर में जन्मी युवा पत्रकार और लेखिका प्रभा ललित सिंह को यह पुरस्कार पत्रकारिता में उनके लंबे योगदान और मीडिया के माध्यम से समाज और जरूरतमंदों को उनका हक दिलाने के लिए किए गए अथक प्रयासों के लिए तथा साहित्य के क्षेत्र में अपने उपन्यासों दूसरा मृत्युंजय (2018) और सेक्टर सिक्सटीन वन वे स्ट्रीट (201 9)के लिए मिला है नागपुर में जीरो माइल फाउंडेशन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में प्रभा ललित सिंह को उनके सामाजिक कार्यों और साहित्य के लिए कला रत्न से सम्मानित किया गया |

22 अगस्त 1983 को उत्तराखंड के बागेश्वर में जन्मी प्रभा ललित सिंह ने देहरादून के इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आई एम एस) कॉलेज से मास्टर्स इन मास कम्युनिकेशन की उपाधि ग्रहण की। उसके बाद से ही वह निरंतर मीडिया और स्वतंत्र लेखन से जुड़ी हुई है। उन्होंने कई पत्रिकाओं, समाचार पत्रों व टीवी चैनलों के लिए दिल्ली में क्राइम रिपोर्टर और उसके बाद यूसीएन न्यूज नागपुर (महाराष्ट्र) में प्रोग्राम प्रोड्यूसर के पद पर काम किया है । उन्होंने विभिन्न राजनैतिक सामाजिक सांस्कृतिक आपराधिक और अन्य विषयों पर डेढ़ सौ से अधिक वृत्त चित्रों का निर्माण किया है। वर्तमान में प्रभा एक भविष्यमुखी पोर्टल जिंदगी नेक्स्ट डाँट काँम में प्रबंध संपादक के तौर पर संबद्ध हैं ।लेखन और समाज सेवा के अलावा प्रभा आजकल वीडियो प्रोडक्शन के माध्यम से कॉरपोरेट फिल्मस, डॉक्यूमेंट्री शॉर्ट फिलम्स व वेब सीरीज के निर्माण में सक्रिय हैं। प्रभा ललित सिंह के इन्हीं कार्यों को देखते हुए उन्हें कला रत्न पुरस्कार से नवाजा गया कार्यक्रम में जयपुर राजस्थान दिल्ली मुंबई बेंगलुरु हैदराबाद कोलकाता आदि शहरों से आए हुए गणमान्य व्यक्तियों को स्वास्थ्य शिक्षा साहित्य समाज आदि क्षेत्रों में कार्य कर रहे व्यक्तियों को सम्मानित किया गया और कार्यक्रम में नागपुर के वरिष्ठ समाजसेवक चिकित्सक राजनेताओं आदि सदस्यों ने भाग लिया


Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: